अपना आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड बनवा ले और पाये किसी भी बिमारी का ईलाज करे बिलकुल निशुल्क

नमस्कार दोस्तो, कैसे है आप सभी । नये साल की आप सभी को बहुत सारी बधाईया । इस नये साल मे आपके लीये आपकी केंद्र सरकार यानी हमारी देश की भारत सरकार अपनी जनता के लीये पहले की तराह अनेक योजनाये बनाने वाली है ।  साथ ही पिछली योजना ओ को भी पुनः निर्मित कर ऊनको अपडेट रखेगी ।

आज इस लेख मे हम हमरे देश की जनता के स्वास्थ्य से संबंधित योजना के बारे मे जानने का प्रयास करेंगे । आज चर्चा मे लाई जाणे वाली योजना की मदद से आप सरकार द्वारा निश्चित किये गये किसी भी अस्पताल मे आपण इलाज करवा सकते है । आपकी किसी भी बिमारी का ईलाज आप सरकार द्वारा प्रमाणित किये गये अस्पतालो मे बिना किसी भी तरह का शुल्क दिये बगैर कर संकते है ।

इस योजना के माध्यम से सरकार देश की जनता के स्वास्थ्य को लेकर काफी चिंतित है, यह देख जा सकता है । इस तरह की सुविधा प्रदान करणे वाली इस योजना का नाम है,  ‘आयुष्यमान भारत गोल्डन कार्ड’ । तो आइये हमारे साथ इस योजना के बारे मे जानने का प्रयास करते है ।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड योजना के बारे में:

इस योजना की शुरुवात भारतीय केंद्र सरकार द्वारा देश की तमाम जनता के अच्छे स्वास्थ के लीये बनाई गयी है ।

योजना का नाम आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड योजना / आयुष्मान भारत स्वर्ण कार्ड योजना
इसके द्वारा शुरू की गयीभारतीय केंद्र सरकार
शुभारंभ किसके द्वारामा. नरेंद्र मोदी (पंतप्रधान)
लाभार्थीभारत देश के नागरीक
उद्देश्य5 लाख रूपये का स्वास्थ्य बीमा प्रदान करना
लिस्ट देखने का तरीकाऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइटhttps://pmjay.gov.in/
आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड योजना - पाये 5 लाख का बीमा

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड योजना का उद्देश

  • हमारे देश ऐसी बहुत सारी बिमारीया है, जिनका इलाज सामान्य परिवार के लोगो के लीये बहुत ही बडा होता है । इन बिमारीयो मे कैंसर, मधुमेह, हृदय रोग और स्ट्रोक जैसी बिमारी को भी शामिल किया गया है ।
  • इस योजना के माध्यम से देश का कोई भी नागरीक या फिर कोई भी परिवार ऐसी किसी भी गंभीर बिमारी का इलाज करवा सकता है, जिसके इलाज के लीये पांच लाख रुपये तक का खर्चा होता हो ।
  • यह इस बात को ध्यान मे राखना जरूरी है की, सरकार ५ लाख रुपये तक का ईलाज फ्री मे करवा देती है ।
  • इस योजना का मुख्य उद्देश देश के जनता को इलाज करणे के लीये कोई भी समस्या का सामना न करना पडे । देश के कई नागरीक गरीबी के कारण बिमारी का इलाज न करणे के कारण मर जाते है । ऐसे मे इज मृत्यू दर को कम करणे के लीये भी इस योजना को शुरु किया गया है, ऐसा भी हम कह सकते है । 
  • देश मे गंभीर से गंभीर बिमारी का इलाज देश का कोई भी नागरिक कर सके इज उद्देश से इस योजना का शुभारंभ किया गया था ।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड योजना से जुडी खबरे

इस योजना से जुडी कुछ चुनी हुई खबरे

और पढे:

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड योजना हरियाणा मे   

हरियाणा में 15 सितंबर 2021 से 30 सितंबर 2021 तक आयुष्मान भारत पखवाड़ा कार्यक्रम हरियाणा मे संचालित किया गया था । इस पखवाडे के माध्यम से हरियाणा मे ‘आयुष्यमान भारत गोल्डन कार्ड’ बनवाने का कार्यक्रम को पूर्ण किया गया था ।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड योजना जम्मू और काश्मीर के संबंध मे    

‘आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड’ योजना के माध्यम से जम्मू-कश्मीर में पिछले 6 महीने में करीब 19 लाख ‘आयुष्यमान भारत गोल्डन कार्ड बनाए गए हैं । जिसकी वजह से जम्मू और कश्मीर देश के उन शीर्ष 5 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की सूची में शामिल हो गया है जिनमे अधिक ‘आयुष्यमान भारत गोल्डन कार्ड’ बनाए गए हैं ।

यह जानकारी भारत सरकार के राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के माध्यम से दी गई है । हालाकी यह योजना 26 दिसंबर 2020 को हमारे देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जम्मू और कश्मीर में ‘प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना’ के नाम से शुरू की गई थी । अब इज योजना को ‘आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड’ के नाम से भी जाना जाता है ।

आयुष्मान भारत योजना में दी गई सुविधा

  • मानसिक रोगी का उपचार
  • बुजुर्ग मरीजों के लिए आपातकालीन चिकित्सा देखभाल और सुविधाएं
  • प्रसव के दौरान महिलाओं के लिए सभी सुविधाएं और उपचार
  • दाँतों की देखभाल
  • संपूर्ण शिशु स्वास्थ्य सुविधाएं
  • बुजुर्गों, बच्चों, महिलाओं के स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान
  • प्रसव के दौरान महिला को 9000 रुपये तक की छूट
  • नवजात एवं बाल स्वास्थ्य सेवाएं
  • सरकार ने टीवी मरीजों के इलाज के लिए 600 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं.
  • मरीज के भर्ती होने से पहले और डिस्चार्ज होने के बाद भी सारा खर्च सरकार वहन करेगी।

राज्य एवं ऊनके लाभार्थी

राज्य का नाम संख्या
उत्तर प्रदेश80,377
उत्तराखंड7,460
छत्तीसगढ़6 लाख
पंजाब38,488
बिहार16,070
मध्य प्रदेश1,23,488
हरियाणा8,247

आयुष्मान भारत योजना 2022

‘आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड’ इस योजना के अंतर्गत आने वाली ‘आयुष्यमान भारत योजना’ की शुरुआत भी हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2018 में राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन के तहत की है । जन आरोग्य योजना 2022 के तहत देश के आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को केंद्र सरकार द्वारा 5 लाख रुपये तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जा रहा है, ताकि लोग 5 लाख रुपये तक के अस्पतालों में अपनी बीमारी का मुफ्त इलाज कर सकें। ‘आयुष्यमान भारत योजना’ देश की सबसे बड़ी स्वास्थ्य सुरक्षा योजना है जो भारत को स्वस्थ बनाने में मदद करेगी ।

pmjay - आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड योजना

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड योजना के लीये पात्रता

पीएम आयुष्मान भारत योजना (ग्रामीण क्षेत्र के लिए) में लाभार्थियों की पात्रता

  1. ग्रामीण क्षेत्र में मिट्टी का घर होना चाहिए
  2. परिवार की मुखिया महिला होनी चाहिए
  3. परिवार में कोई भी विकलांग नहीं होना चाहिए, कोई भी वयस्क 16-59 आयु वर्ग में नहीं होना चाहिए
  4. व्यक्ति मजदूरी करता है
  5. मासिक आय 10000 . से कम होनी चाहिए
  6. मजबूर
  7. भूमिहीन
  8. इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में बेघर, भीख मांगने या बंधुआ मजदूरी करने वाला व्यक्ति आयुष्मान भारत योजना से खुद जुड़ जाएगा।

आयुष्मान भारत योजना में लाभार्थियों की पात्रता (शहरी क्षेत्र के लिए)

  1. इसके लिए व्यक्ति कचरा उठाता है, फेरी वाला है, मजदूर है, गार्ड, मोची, क्लीनर, दर्जी, ड्राइवर, दुकान कर्मचारी, रिक्शा चालक, कुली, पेंटर, कंडक्टर, मिस्त्री, लॉन्ड्रेस आदि का काम करता है।
  2. या वे लोग जिनकी मासिक आय 10,000 आदि से कम है, वे आयुष्मान योजना से जुड़ सकेंगे।

प्रधानमंत्री जन आरोग्य कार्ड 2022 के दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर
  • राशन पत्रिका

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड योजना के लीये पंजीकरण कैसे करे?

 ‘आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड’ योजना का लाभ उठाणे के लीये, आपको पहले इस योजना को आवेदन करना पडेगा । अभी अभी इज योजना के लीये पंजीकरण की प्रक्रिया को शुरु किया गया है । ऐसे मे आपको यह पता होना चाहिये की,  इस योजना को कैसे आवेदन कर सकते है । इसके लीये नीचे दी गयी जाणकारी ध्यान से पढनी होगी ।

जनसेवा केंद्र द्वारा

  • अगर आप इस योजना का लाभ उठाणा चाहते है तो, आपके पास एक सबसे सरल रस्ता है । इसके लीये सबसे पहले आवेदक को अपने नजदीकी जनसेवा केंद्र में जाना होगा । जन सेवा केंद्र वाले लोगों को आयुष्मान भारत योजना की सूची में आपका नाम दिखाई देगा। यदि आपका नाम आयुष्मान भारत योजना सूची में उपलब्ध है तो वह आपको आपका गोल्डन कार्ड देंगे ।
  • फिर अपने सभी दस्तावेज जैसे आधार कार्ड, राशन पत्रिका, पंजीकृत मोबाइल नंबर आदि जन सेवा केंद्र के एजेंट के पास ले जाएं।
  • तब एजेंट आपको सफलतापूर्वक पंजीकृत करेगा और आपको पंजीकरण आईडी प्रदान करेगा
  • फिर जनसेवा केंद्र आपको 10 से 15 दिनों में आयुष्मान कार्ड प्रदान करेगा और गोल्डन कार्ड बनाने के लिए आपको 30 रुपये का शुल्क देना होगा।

अस्पताल से

अगर आप बिमार हुए है, और अस्पताल मे जाते है, और आपके पास ‘आयुष्यमान भारत गोल्डन कार्ड’ नही है, या फिर आपणे इसके लीये आवेदन नही किया है, तो चिंता करणे की कोई भी बात नही है । आप इस कार्ड को अस्पताल से भी प्राप्त कर संकटे है ।

  • इसके लीये आपको सबसे पहले आपको अपने दस्तावेजों जैसे आधार कार्ड, राशन पत्रिका, पंजीकृत मोबाइल नंबर आदि के साथ अपने नजदीकी निजी या सरकारी अस्पताल जाना होगा ।
  • इसके बाद आपका नाम जन आरोग्य योजना की सूची में चेक किया जाएगा ।
  • इस लिस्ट में नाम आने के बाद ही आपको आयुष्मान कार्ड दिया जाएगा ।

अन्य रस्ता

  • सबसे पहले PMJAY की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं ।
  • इज वेबसाईट के होम पेज पर आने के बाद लॉग-इन के विकल्प पर क्लिक करे  ।
  • इसके बाद आपको अपना ‘मोबाइल नंबर’ और कैप्चा कोड दर्ज करना होगा । 
  • इसके पश्चात ओटीपी जनरेट करें और अपनी वेबसाइट में लॉग इन करने के लिए इसे दर्ज करें ।
  • एचएचडी कोड का विकल्प चुनें और कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) को कोड प्रदान करें । सीएससी जांच करेगा
  • आयुष्मान मित्र या सीएससी प्रतिनिधि शेष प्रक्रिया को पूरा करेंगे । आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए 30 रुपए फीस देनी होगी । आपका आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड जारी किया जाएगा ।  

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड को कैसे डाउनलोड करे ?

अगर आपका रजिस्ट्रेशन हुवा है, और आपका नाम लिस्ट मे आया है, तो आप अपणा कार्ड डाउनलोड कर सकते है । डाउनलोड करणे की प्रक्रिया नीचे दी गयी है ।

  • ‘आयुष्यमान भारत गोल्डन कार्ड’ को डाउनलोड करणे के लीये सबसे पहले आपको Ayushman Bharat Cloud Website पर जाना होगा ।
  • इस वेबसाइट  पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा ।
  • होम पेज पर आने के बाद आपको लॉगिन का विकल्प दिखाई देगा । इस लॉगिन के विकल्प पर क्लिक करके आपके सामने फॉर्म खुलेगा । इस फॉर्म में आपको ईमेल आईडी और पासवर्ड डालकर SIGN  IN  के बटन पर क्लिक करना होगा ।
  • इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुलेगा । इस पेज पर आपको आधार नंबर डालकर आगे बढ़ना होगा और अगले पेज पर अपना थंबप्रिंट वेरीफाई करना होगा ।
  • अंगूठा या फिर अपने हाथ की कोनसी भी ऊंगली वेरीफाई करने के बाद अगला पेज खुलेगा । इस पेज पर आपको कई विकल्प दिखाई देंग, जिनमें से आपको अप्रूव्ड बेनिफिशरी के विकल्प पर क्लिक करना होगा । ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अप्रूव्ड गोल्डन कार्ड्स की लिस्ट आ जाएगी
  • फिर लिस्ट में अपना नाम देखें और फिर कन्फर्म प्रिंट ऑप्शन पर क्लिक करें ।
  • इस विकल्प पर क्लिक करने के बाद आप जन सेवा केंद्र वैलेट पर पुनर्निर्देशित हो जाएंगे ।
  • उसके बाद सी.एस.सी वॉलेट में अपना पासवर्ड डालें और पासवर्ड के बाद वॉलेट पिन डालें इसके बाद आप वापस होम पेज पर आ जाएंगे ।
  • फिर आपको उम्मीदवार के नाम के आगे डाउनलोड कार्ड का विकल्प दिखाई देगा । उस पर क्लिक करें और गोल्डन कार्ड डाउनलोड करें ।
  • इस तरह आप अपना आयुष्मान गोल्डन कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं ।

एक पैनल अस्पताल खोजने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको आयुष्मान भारत योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा । होम पेज पर आपको मेन्यू टैब पर क्लिक करना है।
  • अब आपको फाइंड हॉस्पिटल लिंक पर क्लिक करना है।
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • आपको इस पेज पर राज्य, जिला, अस्पताल का प्रकार, विशेषता और अस्पताल का नाम चुनना होगा। अब आपको कैप्चा कोड डालना है।
  • इसके बाद आपको ट्रुथ बटन पर क्लिक करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

अन्य सूचना:

अगर आपको इज योजना से जुडी कोई भी शिकायत होगी तो, आप सी योजना की अधिकृत वेबसाईट पर जकर अपनी शिकायत का समाधान धुंड सकते है । या फिर नीचे दिये गये कमेन्ट बॉक्स मे अपणी शिकायत या फिर आपको और कोनसी योजना तथा अन्य विषय के बारे मे जानना है, उसके बारे मे भी आप लिख संकते है । हम आशा करते है, की आपको हमारा यह आजका लेख पसंद आया होगा । 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *